गंजापन या Androgenic alopecia क्या होता है, इससे कैसे छुटकारा पायें | Homeopathy medicine for hair fall and regrowth

Androgenic alopecia: Baldness या गंजापन आज कल एक आम समस्या बन गयी है आपने बहुत से लोगों को देखा होगा जो इस समस्या से पीड़ित है , आज कल यह समस्या कम उम्र के लोगों में भी देखने को मिलने लगी है इस पोस्ट में हम आपको बतायंगे की होमियोपैथी मेडिसिन से आप कैसे इस समस्या से निजात पा सकते है |

गंजापन या Androgenic alopecia क्या है इसे कैसे ठीक करें (Homeopathy medicine for hair fall and regrowth)

androgenic alopecia
androgenic alopecia

Androgenic alopecia क्या होता है ?

Androgenic मतलब pattern और alopecia मतलब बाल का झड़ना (Hair loss)

आपने अकसर किसी पुरुष में देखा होगा उनके बाल झाड़कर एक खास तरह के pattern का निर्माण करते जैसे कुछ लोगो के बाल आगे से झड़कर w आकर का pattern बनाते हैं तो किसी की बाल पीछे से गोलाकार रूप से झड़कर अलग पैटर्न का निर्माण करते हैं जिसे androgenic alopecia कहा जाता है या फिर इसे गंजेपन की बीमारी भी कहा जाता है | और यह बीमारी खासकर genetic loss के कारण होती है |

यह महिलोओं में अलग प्रकार का होता है उनमे आमतौर पर बहुत अधिक मात्रा में बाल टूटते हैं और सर में बालों की सघनता बहुत ही कम हो जाती है जबकि पुरुषों में बाल झड़कर के pattern का निर्माण करता है जो प्रायः सर के आगे के हिस्से या सर के पीछे उपरी हिस्से पर गोलाकार रूप में नजर आता है जिसे गंजापन भी कहा जाता है या फिर इसे ही androgenic alopecia कहा जाता है |

 बाल झड़ने के कारण (Androgenic alopecia cause)

बाल झड़ने का सबसे पहला कारण है अनुवान्सिक (genetic), अगर यह समस्या आपके पिता, माता या दादा, दादी, नाना, नानी किसी में हो तो ऐसी संभावना है की यह समस्या आपको भी हो सकती है |

बाल झड़ने का दूसरा कारण है हार्मोनल गड़बड़ी (Harmonal imbalances), जिसमे आपके कुछ harmons में किसी कारणवस कुछ गड़बड़ी आ जाती है जिसके चलते भी बाल झड़ने की समस्या आती है |

तीसरा कारण है अगर आप एक मधुमेह (Diabities) के मरीज है तो बहुत ज्यादा चांसेस हैं की आप को बाल झड़ने की समस्या या गंजापन की समस्या हो जाये

गंजापन शुरू होने के लक्षण (Androgenic alopecia sign and symptoms)

अगर आप को androgenic alopecia है तो शुरू में या तो आप के बाल आगे से झाड़ना शुरू करेंगे और धीरे – धीरे ये आगे से झड़ते- झड़ते एक pattern का निर्माण शुरू करेंगे, या फिर सर के पीछे सबसे उपरी भाग में बालो का झड़ना शुरू होगा और धीरे- धीरे वो एक गोलाकार आकर ले लेंगें |

इस बीमारी में बाल शुरुवाती दौर में बहुत तेजी से झड़ते हैं और फिर धीरे – धीरे वो कम हो जाते हैं, आपने अकसर देखा या सुना होगा सभी लोगों के थोरे बहुत बाल झड़ते हैं ये सही भी है लेकिन उनके बाल झड़ने के बाद वापस आ जाते हैं लेकीन androgenic alopecia मरीज के बाल झड़ने के बाद वापस नहीं आते |

महिलाओं में उनके बाल बहुत ज्यादा कमजोर हो जाते है और बहुत पतले हो जाते है धीरे – धीरे सर में बालो की सघनता टूटकर कम हो जाती है और उनकी छोटी भी पहले की तुलना में काफी पतली हो जाती है |

बाल झड़ने से रोकने के लिए होम्योपैथिक दवाएं (Homeopathic Medicine for Androgenic alopecia)

होम्योपैथिक में गंजेपन (baldness) या androgenic alopecia की जो सबसे पहली और प्रभावकारी मेडिसिन है वो है R89,  यह एक जर्मन कंपनी डॉ RACKWAG की दवा है | यह एक R ग्रुप की दवा है जिसके ड्रॉप्स आते हैं और यह R89 एक liquid drops है | जो गंजेपन की एक अत्यंत प्रभावशाली दवा है |

R89 को use कैसे करें – यह दवा liquid form में होती है इसे आप मुहं के द्वारा ले सकते है और इसे गंजेपन के जगह पर मसाज भी कर सकते हैं |

यह दवा आपको दिन में तीन बार सुबह, दोपहर और शाम को लेना है, खाना खाने के 1 घंटे बाद इस दवा का ढक्कन खोल लें और उसमे आधा ढक्कन पानी ले , पानी सादा या गुनगुना कोई भी ले सकते हैं, उसमे अब 20-25 बूंद इस दावा को मिलाकर पी ले |

इस दवा से आपको दिन में 1 बार मसाज करना है मसाज करने के लिए ऊपर दी गयी मात्रा के अनुसार पानी और दवा मिलाकर उसे रुई की सहायता से उस जगह पर इस्तेमाल करें जहाँ गंजेपन की समस्या हो |

गंजेपन के दूसरी दावा है Jaborandi Q – यह भी एक liquid form है यह दवाई बालों को फिर से उगाने में बहुत ही कारगर साबित होती है, इस दवाई की आप 30 ML की फाइल ले सकते हैं , Jaborandi Q को Jaborandi mothertincture भी कहा जाता है |

जैबोरैंडी क्यू  का प्रयोग आपको बालों में मसाज के लिए करना है इस दवाई को रात में सोने से पहले बिना पानी के कुछ बुँदे बालों की जड़ों में लगाकर रोज मसाज करें, वही R89 को आपको सुबह मसाज करना है |

गंजेपन की तीसरी दावा है थूजा 200 , यह दवाई खासकर आपके imbalance हुवे harmons को control करता है साथ ही genetic से सम्बंधित समस्याओं को भी दूर करता है | इस दवाई को आपको सिर्फ 2 बूंद रात में 1 बार प्रयोग करना है |

गंजेपन या  androgenic alopecia में ये तीनो दवाई आपको एक साथ प्रयोग करना है |

कब तक प्रयोग करें इन दवाईयों का

इन तीनों दवाओं को आपको 4-5 महीने तक प्रयोग करना है, यह तीनो दवाए एक साथ बहुत ही कारगर साबित हुई हैं और बहुत से लोगों की गंजेपन की समस्या दूर भी हुई है |

बहुत से लोगों का प्रश्न होता है कि गंजेपन में कौन सा तेल प्रयोग करें तो इसमें आप होमियोपैथी की जैबोरैंडी तेल (jaborandi OIL) का प्रयोग कर सकते हैं, इसे आप दुसरे तेल के तरह normally प्रयोग कर सकते है |

प्रश्न -उत्तर (FAQ)

क्या झड़े हुए बाल दोबारा उग सकते हैं?

जी हां ऊपर के पोस्ट में हमने baldness या गंजेपन पर पूरी जानकारी दी है |

नए बाल उगाने के लिए कौन सा तेल लगाना चाहिए?

अगर आप होमियोपैथी तेल का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो jaborandi आयल ले सकते हैं |

गंजापन किसकी कमी से होता है ?

इसके कई कारण है जैसे genetic, हार्मोनल imbalances इत्यादि |

गंजेपन के लिए कौन सी दवा का प्रयोग करें ?

R89 के अलावे और भी दवाए है पोस्ट में जानकारी विस्तार से दी गयी है |

Leave a Comment

Buy grocery online huge discount Best Summer clothes for women online Business Idea Gulkhaira Farming: 10,000 रुपये क्विंटल बिकता है यह पौधा, करें खेती होगी जबरदस्त कमाई IPL news: Jos Buttler और chehel की बदोलत राजस्थान ने KKR को हराया Mother’s Day: मदर्स दे कोट्स हिंदी में | Mothers Day Quotes in Hindi
Buy grocery online huge discount Best Summer clothes for women online Business Idea Gulkhaira Farming: 10,000 रुपये क्विंटल बिकता है यह पौधा, करें खेती होगी जबरदस्त कमाई IPL news: Jos Buttler और chehel की बदोलत राजस्थान ने KKR को हराया Mother’s Day: मदर्स दे कोट्स हिंदी में | Mothers Day Quotes in Hindi